Homeराज्यो से ,
जनपद अध्यक्ष ने CEO को जड़े थप्पड़

 मुख्यमंत्री जनकल्याण सबल योजना कार्यक्रम में मंच पर सम्मानित नहीं किए जाने पर महिला जनपद अध्यक्ष रंजीता परस्ते ने सीईओ आरके पालनपुरे को थप्पड़ जड़ दिए। मामला बुधवार को करंजिया उत्कृष्ट स्कूल मैदान में कार्यक्रम का है। जनपद करंजिया में दो अध्यक्ष होने को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा है।

मंगलवार को जनपद अध्यक्ष रंजीता परस्ते ने कलेक्टर से मिलकर हाईकोर्ट के स्टे की कॉपी दिखाते हुए चर्चा भी की थी। बुधवार को कार्यक्रम में जनपद सीईओ ने मंच से अध्यक्ष के तौर पर सम्मानित कराने का वादा भी परस्ते से किया था। लेकिन बुधवार को कार्यक्रम के दौरान संचालनकर्ता ने मंच से अंबेश्वरी परस्ते को जनपद अध्यक्ष बताते हुए सम्मान के लिए बुलाया। इसी बात को लेकर जनपद अध्यक्ष रंजीता परस्ते नाराज हो गई और मंच पर पहुंचकर सीईओ को उनका वादा याद दिलाया। सीईओ ने कहा जो हो गया सो हो जाने दो। अब शांत रहो।

इसी बात पर रंजीता परस्ते ने सीईओ को दनादन कई थप्पड़ जड़ दिए। घटना के बाद पुलिस व जनप्रतिनिधि भी पहुंच गए। सीईओ की शिकायत पर पुलिस ने परस्ते के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। रंजीता परस्ते के पति काशी परस्ते ने भी सीईओ के खिलाफ शिकायत की है। वहीं तृतीय श्रेणी कर्मचारी सीईओ के पक्ष में जनपद में तालाबंदी कर हड़ताल पर चले गए। उन्होंने कार्रवाई न होने पर दी आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

 

क्या है पूरा मामला

जनपद के चुनाव में रंजीता परस्ते अध्यक्ष निर्वाचित हुई थीं। पिछले साल जनपद सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव पारित किया था। रंजीता परस्ते ने हाईकोर्ट से स्टे ले लिया था, लेकिन इसी बीच जनपद सदस्यों ने अंबेश्वरी परस्ते को अध्यक्ष चुन लिया। रंजीता परस्ते का स्टे लेना और अंबेश्वरी परस्ते को अध्यक्ष चुना जाना दोनों एक ही दिन हुआ था। अंबेश्वरी परस्ते ने अध्यक्ष पद की शपथ भी नहीं ली है। इस कारण अध्यक्ष पद पर रंजीता परस्ते ही काबिज थीं। इधर, जनपद अध्यक्ष और सीईओ के बीच हुए विवाद से कार्यक्रम भी नहीं हो पाया और दूरदराज से आए हितग्राही निराश होकर वापस लौट गए।

Share This News :