Homeराज्यो से ,
MP में नहीं थम रही दुष्‍कर्म की वारदातें, सीधी अौर डिंडौरी जिले में नाबालिग से दुराचार

सीधी, डिंडौरी। मध्‍यप्रदेश में दुष्‍कर्म की वारदातें थम नहीं रही हैं। सीधी अौर डिंडौरी जिले में नाबालिग से दुराचार के मामले सामने आए हैं।

सीधी जिले के चुरहट थाना के सिमरिया चौकी अंतर्गत एक गांव की 10 साल की नाबालिग बच्ची से रिश्ते के मामा द्वारा दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है। घटना के बाद आरोपित फरार हो गया। जिसे पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज होने के 15 घंटे के अंदर ही गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर दिया।

पुलिस ने बताया कि गुरुवार को नाबालिग बच्ची के माता-पिता सावन मास होने के कारण बड़ोरा स्थित भगवान शिव के मंदिर दर्शन करने व धार्मिक आयोजन में शामिल होने गए थे। इस दौरान घर में नाबालिग बच्ची के साथ उसके दो छोटे भाई-बहन भी मौजूद थे जो घर के आसपास खेल रहे थे।

तभी रिश्तेदारी में गांव आए 35 वर्षीय रिश्ते का मामा मौका देखकर नाबालिग के घर पहुंचा और बहला-फुसलाकर उसे अपने साथ ले गया। बच्ची को सुनसान इलाके में ले जाकर उससे दुष्कर्म किया और फिर भाग खड़ा हुआ। शाम करीब 7 बजे जब पीड़िता के माता-पिता घर पहुंचे तो नाबालिग ने सारी घटना बताई।

 

परिजन ने रात को ही सिमरिया चौकी में दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया। एएसपी सूर्यकांत शर्मा के नेतृत्व में बनी टीम ने 15 घंटे में ही आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। शुक्रवार को आरोपित को कोर्ट में पेश किया गया।

डिंडौरी में नाबालिग से तीन माह तक किया दुष्कर्म

 

डिंडौरी जिले के समनापुर थाना क्षेत्र के एक गांव की 17 वर्षीय आदिवासी बालिका का अपहरण कर दुष्कर्म किया गया। पुलिस के मुताबिक नाबालिग का अपहरण 26 मई को किया गया था। इसके बाद ग्राम देवरी मानपुर निवासी संतोष पिता अधर सिंह राठौर द्वारा 26 मई से 9 अगस्त, तीन माह तक नाबालिग से दुष्कर्म किया गया। पीड़ित युवती की रिपोर्ट पर आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच की जा रही  है।

Share This News :