Homeअपना शहर ,slider news,
कार्यकर्त्ता सम्मलेन को माया सिंह ने किया हाइजेक , क्यों बांटे उपहार -कार्यकर्त्ता उठा रहे हैं सबाल

 बीजेपी कार्यकर्त्ता सम्मलेन को मंत्री  माया सिंह ने हाइजेक  कर लिया था .यानि पार्टी का कार्यक्रम था ,तो उन्होंने क्यों उपहार बांटे .सबाल यह उठता हे की जब पूर्व बिधानसभा का कार्यक्रम था और सभी कार्यकर्ताओं को बुलाया जाना था ,तब चुनिंन्दा लोगों को ही क्यों बुलाया गया और लालच देकर पार्टी कार्यकर्त्ता सम्मलेन में महिलाओं को क्यों बुलाया गया ,यह तमाम सबाल कार्यकर्त्ता उठा रहे हैं .कार्यकर्ताओं का कहना है की पार्टी के कार्यक्रम को मंत्री माया सिंह ने अपना कार्यक्रम कैसे बना लिया .सबाल यह भी उठता है की जब पार्टी का कार्यक्रम था तो माया सिंह ने गिफ्ट क्यों बांटे .जो बीजेपी की संस्कृति के खिलाफ जाता है .हाँ उन्हें गिफ्ट बाँटना थे तो पार्टी के नाम से कार्क्रम करने के बजाय खुद कार्यक्रम करतीं तो पार्टी के नाम की छीछालेदर तो न होती .बरहाल जलवा दिखाने के फेर में पूरी पार्टी को बिपक्ष ने भी निशाने पर लिया है  .बता दें की रविबार को भारतीय जनता पार्टी के ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता सम्मेलन में कार्यकर्ताओं द्वारा फेंके गए उपहार बैग लूटने के फेर में भगदड़ मचने से दर्जनों महिलाएं घायल हो गईं। ये महिलाएं यहां ट्रॉली बैग, 2500 रुपए के चेक व अन्य उपहार लेने के लालच में पहुंची थीं। कई महिलाओं के मंगलसूत्र, पर्स, आधार कार्ड व अन्य सामान चोरी हो गए।एक महिला को एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया गया। नाराज महिलाओं ने कार्यक्रम खत्म होने से पहले ही मंच पर आकर आयोजकों से माइक छीन लिया, मंच पर लगा फ्लेक्स फाड़ दिया और कुर्सियां फेंकी। एक महिला ने टेंट हाउस में आग लगाने का भी प्रयास किया।

ग्वालियर व्यापार मेला परिसर स्थित संस्कृति गार्डन में आयोजित इस कार्यकर्ता सम्मेलन के लिए भाजपा नेताओं व पार्षदों ने भीड़ जुटाने की गरज से महिलाओं को गिफ्ट पैक, भोजन व अन्य सौगातें बांटने की जानकारी के साथ बुलाया था। इस बात की जानकारी जब एक से दूसरी महिला तक पहुंची तो गिफ्ट पैक ने ट्रॉली बैग और 2500 रुपए मिलने की अफवाह का रूप ले लिया।

अफवाह से हालात ये बन गए कि सुबह 11.30 बजे से शुरू हुए कार्यकर्ता सम्मेलन में 10 बजे से ही महिलाओं की भीड़ जमा होने लगी। दोपहर 12बजे तक आयोजन स्थल पर 10 से 12 हजार महिलाओं की भीड़ जमा हो चुकी थी और महिलाओं के आने का क्रम जारी था।दोपहर 1.05 बजे जब मंच से केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर उद्बोधन दे रहे थे, उसी समय कार्यकर्ताओं ने उपहार लेने लाइन में खड़ी महिलाओं के बीच उन्हें फेंकना शुरू कर दिया। उपहार बैग लूटने के प्रयास में कई महिलाएं, बच्चे व बुजुर्ग महिलाएं भी घायल हुईं। कइयों के मंगल सूत्र, पर्स, चेन, आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज गायब हो गए। एक महिला प्रेमवती बाई के पंजे पर ज्यादा चोट लगने पर उसे 108 एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया गया।ट्रॉली बैग, 2500 रुपए के मिलने के लालच में आईं तमाम महिलाओं को जब उपहार (कपड़े का एक बैग जिसमें टेबल घड़ी, पानी की बोतल, दो पत्रिकाएं व राइटिंग पैड था) भी नहीं मिला और उल्टे उनका सामान चोरी हो गया तो वह अपना आपा खो बैठीं।

Share This News :