Homeराज्यो से ,slider news,अपना मध्यप्रदेश,
राजमाता की छतरी पर अमित शाह के साथ क्या जायेंगे पबैया

 ( विनय शर्मा ) बीजेपी की संस्थापक सदस्य और पार्टी  की आस्था का केंद्र श्रीमंत कैलाशवासी  राजमाता विजयाराजे सिंधिया  की छतरी पर बीजेपी के राष्ट्रीयअध्यक्ष श्री  अमित शाह के साथ क्या मंत्री जयभान सिंह पबैया जायेंगे .यह बात पार्टी का हर कार्यकर्त्ता कर रहा है .बतादें की शिवपुरी -गुना लोकसभा चुनाव   हारने के बाद श्री पबैया ने फूलबाग मैदान पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में आयोजित कार्यक्र्म में राजमाता की छतरी को शमशान घाट बताते हुए कहा था की क्या में छतरी यानि शमशान घाट से राख लेकर चुनाव लड़ने जाता .इस दौरान मंच पर मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया भी मौजूद थीं .श्री पबैया ने यह बात यशोधरा राजे सिंधिया की उस बात के जवाब में कही थी ,जिसमे उन्होंने कहा था की चुनाव लड़ने बाले उम्मीदबार अगर छतरी जाकर राजमाता जी का आशीर्बाद लेकर शिवपुरी जाते तो परिणाम कुछ और होता .श्री पबैया के बिबादित बोल सुन सीएम भी टेंसन में आ गए थे .सब जानते हैं की पूरी पार्टी राजमाता जी के प्रति अगाध श्रद्धा रखती है ,मगर श्री पबैया धुर विरोधी माने  जाते हैं .अब ऐसे में सबाल यह उठता है की जब पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शाह राजमाता जी की छतरी जाकर श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे ,तो क्या   मंत्री पबैया  साथ रहेंगे या फिर कोई बहाना बनाकर बहां नहीं जायेंगे .हांलाकि पार्टी प्रमुख श्री शाह चाहते तो राजमाता जी की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर इस कार्यक्रम को पूरा कर सकते थे ,मगर राजमाता जी के प्रति उनकी यह अगाध श्रद्धा को दर्शाता है की बे छतरी जा रहे हैं .हालाँकि श्री पबैया जायेंगे या नहीं इस पर पार्टी कार्यकर्ताओं की नजर है .यहां बतादें की श्री शाह पहलीबार ग्वालियर आ रहे हैं .

Share This News :