Homeअपना मध्यप्रदेश,
जिस हेडमास्टर ने CM को कहा था 'डाकू', उस पर कमलनाथ ने दिखाई दरियादिली

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने ऊपर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले हेडमास्टर मुकेश तिवारी को बहाल करने के निर्देश दिए हैं। इस संबंध में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक संदेश लिखा है। जिसमें उन्होंने हेडमास्टर को माफ करने के साथ प्रदेश में बदले की भावना से काम न करने की बात कही है।

बता दें कि हेडमास्टरमुकेश तिवारी ने एक सभा में सीएम कमलनाथ के लिए अमर्यादित बयान दिया था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इस वीडियो को सबूत बनाकर जिले के कांग्रेसी नेताओं ने कलेक्टर छवि भारद्वाज से इसकी शिकायत की थी, जिसके बाद गुरुवार को उन्हें सस्पेंड कर दिया गया था। आदेश में शिक्षक की हरकत को को सिविल सेवा आचरण के उलट बताया गया था। हालांकि अब खुद मुख्यमंत्री ने इस मामले में पहल करते हुए टीचर का निलंबन आदेश वापस लेने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा उन्होंने एक संदेश भी जारी किया है। जिसमें प्रदेश सरकार के काम करने के तरीके के बारे में तफ्सील से बताया है।हेडमास्टर ने भी इस फैसले पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ा दिल दिखाते हुए मुझे माफ किया है। मुझे यही उम्मीद थी कि जब उनके संज्ञान में ये मामला आएगा तो वो जरूर बड़ा दिल दिखाएंगे। इतना ही नहीं हेडमास्टर मुकेश तिवारी ने वीडियो में छेड़छाड़ का भी आरोप लगाया है।

यहां पढ़िए मुख्यमंत्री कमलनाथ का पूरा आदेश : मुझे अभी ज्ञात हुआ है कि प्रदेश के जबलपुर में एक शासकीय स्कूल में पदस्थ एक प्राध्यापक ने एक बैठक में मेरा नाम लेकर डाकू शब्द कहे जाने के विडीओ सामने आने पर वहाँ के ज़िला प्रशासन ने शिकायत मिलने पर उन्हें सिविल सेवा आचरण नियम के तहत निलंबित किया है।लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता सभी को है , मेरा ऐसा मानना है।मैं सदैव इसका पक्षधर रहा हूँ।

Share This News :