Homeअपना मध्यप्रदेश,
पूरा प्रदेश पानी-पानी

 पिछले कुछ दिनों से मध्य प्रदेश में आफत की बारिश बरस रही है। मूसलाधार बारिश के चलते मध्य प्रदेश के ज्यादातर जिलों में नदी-नाले उफान पर हैं। कई स्थानों पर तो मुख्य नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। इससे आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। लगातार हो रही बारिश के चलते रायसेन में भी हालात खराब हो गए हैं। यहां कई इलाकों में लोगों के घरों में पानी घुस गया है।रायसेन मुख्यालय सहित जिले भर में हुई मूसलाधार बारिश से हर तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। रायसेन का भोपाल से सड़क संपर्क टूट गया है। यहां रीछन नदी के उफान पर आ जाने से दरगाह रपटा चढ़ गया है। वहीं भोपाल-रायसेन बायपास की एक पुलिया धसक जाने की वजह से पूरी तरह रायसेन का भोपाल से सड़क संपर्क टूटा हुआ है। इसके अलावा पगनेश्वर गांव में बेतवा नदी के उफान आ जाने की वजह से रायसेन का विदिशा से भी सड़क संपर्क टूट गया है।जिले में लगातार बारिश का दौर जारी है। गुरुवार रातभर बारिश होती रही। बारिश से अंचल के नदी-नाले उफान पर है। एबी रोड के ग्राम टोंककलां में फोरलेन निर्माण कार्य के चलते पानी की निकासी नहीं होने से गांव में जलजमाव की स्थिति बनी। उधर, शिप्रा नदी उफान पर आने से गुरुवार रात पौने एक बजे शिप्रा डेम के दो गेट तीन-तीन मीटर खोले गए। जिले में अब तक औसत 24 इंच बारिश हो चुकी है। पिछले साल अब तक 16 इंच बारिश हुई थी।ग्वालियर -चम्बल संभाग में भी बारिश जारी है.

Share This News :