Homeslider news,अपना मध्यप्रदेश,
राहुल गांधी को बम से उड़ाने की धमकी, पत्र में क्या लिखा है देखे यहां

इंदौर | शहर में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी को बम से उड़ाने की धमकी से जिला और पुलिस प्रशासन के होश उड़ गए। जूनी इंदौर थाना क्षेत्र में मिठाई की दुकान पर धमकी भरा पत्र मिला है। फिलहाल पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पत्र छोड़ने वाले की तलाश में जुटी गई है।इंदौर के जूनी इंदौर थाना क्षेत्र स्थित मिठाई की दुकान पर अज्ञात व्यक्ति ने पत्र छोड़ दिया था जिसे मिठाई की दुकान संचालक ने पुलिस के हवाले किया। पत्र में इंदौर के खालसा कॉलेज में भारत जोड़ो यात्रा के तहत राहुल गांधी के रुकने पर बम से उड़ाने की धमकी दी गई है।डीसीपी इंटेलीजेंस रजत सकलेचा ने इस तरह का धमकी भरा पत्र मिलने की पुष्टि की है। पत्र उज्जैन से आना बताया जा रहा है। प्रेषित में रतलाम के विधायक का नाम लिखा है।गौरतलब है कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश में 24 अक्टूबर से शुरू होगी। पुलिस आसपास के टीवी फुटेज खंगाल रही है। हाल ही में खालसा कालेज में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ का प्रकाश पर्व पर कार्यक्रम के दौरान सम्मानित किए जाने पर पंजाब के कीर्तनकार ने आलोचना की थी।साथ ही कहा था कि वह फिर कभी इंदौर नहीं आएंगे। इसे लेकर भी काफी विवाद हुआ था।उधर रतलाम के विधायक चेतन्य कश्यप ने मीडिया में बयान जारी कर इस मामले में उनका हाथ नहीं होने बात कही है। उन्होंने मीडिया से चर्चा में कहा कि इंदौर में धमकी भरा पत्र मिलने और उसके लिफाफे पर मेरा नाम लिखा होने की जानकारी मिली है। ऐसे किसी पत्र से मेरा कोई लेना देना नहीं है। यह मुझे बदनाम करने षड़यंत्र है। उन्होंने बताया कि वे मुंबई प्रवास पर है। इंटरनेट मीडिया से इंदौर में धमकी भरा पत्र और उसके लिफाफे पर उनका नाम लिखने के षड़यंत्र की जानकारी मिलते ही उन्होंने तत्काल रतलाम एसपी और इंदौर पुलिस कमिश्नर से चर्चा की। इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने और तत्काल षड़यंत्रकारी को पकड़कर उसके खिलाफ कठोर कार्यवाही करने की मांग की है।मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश सचिव राजेश चौकसे कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से उन लोगों में खलबली है जो राष्ट्र को एकीकृत होते नहीं देखना चाहते। भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी की सुरक्षा को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पूर्व में भी आशंकाएं जाहिर कर चुके हैं। अब इंदौर में मिले इस धमकी भरे पत्र ने चिंताओं को और भी बढ़ा दिया है। पुलिस और प्रशासन को वरिष्ठ नेता राहुल गांधी और पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ की सुरक्षा को और भी पुख्ता करना चाहिए। साथ ही इस मामले में उचित कार्यवाही करना चाहिए।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Share This News :