Homeराज्यो से ,
मुंबई में बारिश ने जनजीवन को किया अस्त-व्यस्त

बीते 24 घंटे के दौरान महाराष्ट्र समेत नौ राज्यों में मूसलाधार बारिश हुई है। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में बदरा जमकर बरसे हैं। मुंबई में सोमवार सुबह 7 बजे से पहले के छह घंटों में 300 एमएम बारिश दर्ज की गई, जिससे मायानगरी थम गई। भारी बारिश के चलते मुंबई हवाईअड्डे पर दृश्यता कम होने की वजह से कई उड़ानें रद्द करनी पड़ीं। मुंबई की जान कही जाने वाली लोकल ट्रेनों की आवाजाही बाधित हुई। स्कूल और कॉलेजों को बंद करना पड़ा।

मुंबई में कैसी बारिश हो रही है?
रविवार और सोमवार की मध्य रात्रि में मुंबई में भारी बारिश हुई। सोमवार की सुबह शहर के कई इलाकों में 300 मिमी से अधिक वर्षा दर्ज की गई। 2019 के बाद से महानगर में एक दिन में सबसे अधिक बारिश है। सोमवार सुबह तक पिछले 24 घंटों में दर्ज की गई कुल 268 मिमी बारिश में से 210 मिमी वर्षा महज दो घंटों के भीतर दर्ज की गई।

बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के आंकड़ों के मुताबिक, मुंबई के पूर्वी उपनगरों में रात एक बजे से सुबह सात बजे के बीच सबसे भारी बारिश दर्ज की गई। बीएमसी के स्वचालित मौसम प्रणाली (एडब्ल्यूएस) ने विक्रोली में सबसे ज्यादा 315.6 मिमी बारिश दर्ज की। इसके बाद पवई में 314.5 मिमी, अंधेरी ईस्ट (292 मिमी), चकला, (272 मिमी) और आरे (259 मिमी) में वर्षा हुई।

वहीं आईएमडी ने बताया कि सांताक्रूज रिकॉर्डिंग स्टेशन ने 268 मिमी, जबकि कोलाबा केंद्र ने रविवार और सोमवार की सुबह के बीच केवल 84 मिमी बारिश दर्ज की। इस तरह से 2 जुलाई को उपनगरों में 24 घंटे के भीतर 375.2 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

शहर में भारी वर्षा की वजह क्या है? 
आईएमडी के वैज्ञानिकों ने भारी बारिश का कारण आधी रात के आसपास 'समुद्री उतार' के मजबूत होना बताया है। मानसून के मौसम के दौरान भारत के पश्चिमी तट पर कम दबाव का एक उथला उतार देखा जाता है। इसे ऑफ-शोर ट्रफ' या समुद्री उतार के रूप में जाना जाता है।

वैज्ञानिकों के अनुसार, उत्तरी गुजरात और केरल तट के पास समुद्री उतार जो पहले कमजोर था आधी रात के आसपास उत्तरी कोंकण के पास मजबूत हो गया, जिससे भारी बारिश हुई। आगे कैसा रहेगा मुंबई का मौसम?
भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने भारी बारिश के बीच मंगलवार (9 जुलाई) को मुंबई के लिए हाई टाइड अलर्ट जारी किया है। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र की चेतावनी के बाद, कई जिलों के स्कूलों को 9 जुलाई को बंद रहने का निर्देश दिया गया है। IMD ने मंगलवार को शहर के लिए 'रेड' अलर्ट जारी किया है। 

आईएमडी ने 12 जुलाई तक मुंबई में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा का अनुमान लगाया है। मौसम एजेंसी ने 12 जुलाई तक महाराष्ट्र के विभिन्न जिलों में भारी से मध्यम वर्षा की भविष्यवाणी की है। मुंबई के विभिन्न इलाकों में आगामी सात दिनों में बारिश का पूर्वानुमान है। बोरीवली में 9 और 10 जुलाई को सामान्यतः बादल छाए रहेंगे और मध्यम वर्षा होगी। 11, 12 और 13 जुलाई को इलाके में सामान्यतः बादल छाए रहेंगे और भारी वर्षा होगी। इसके बाद 14 और 15 जुलाई को वर्षा होने का अनुमान है।

 
 

Share This News :