Homeप्रमुख खबरे,slider news,अपना मध्यप्रदेश,
जयभान सिंह पवैया का कद बढ़ाकर ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ संतुलन की कोशिश

कांग्रेस छोड़कर आए राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया और भाजपा के नेताओं के बीच संतुलन बनाने की कोशिशें भारतीय जनता पार्टी ने शुरू कर दी हैं। महल विरोधी यानी सिंधिया परिवार के विरोधी नेता कहे जाने वाले जयभान सिंह पवैया का कद बढ़ाकर महाराष्ट्र राज्य का सह प्रभारी बनाया जाना भी संतुलन की राजनीति का ही एक हिस्सा है। मध्य प्रदेश की 28 सीटों के उपचुनाव के बीच भी पवैया और सिंधिया के बीच दशकों से जमी बर्फ पिघली नहीं थी।

 

पवैया ने उपचुनाव में प्रचार की औपचारिकता तो दिखाई, लेकिन सिंधिया घराने को लेकर उनकी तल्खी में कमी नहीं आई थी। पार्टी में पवैया के महत्वपूर्ण योगदान को देखते हुए भाजपा ने एक तीर से दो निशाने साधे हैं। पहला, पवैया को महाराष्ट्र में व्यस्त कर दिया ताकि वे ग्वालियर-चंबल की राजनीति से बाहर रहें। दूसरा, पवैया को अन्य जगह व्यस्त करने से ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे प्रभावशाली नेता को स्थापित करने में भाजपा को आसानी होगी।

Share This News :