Homeराज्यो से ,प्रमुख खबरे,slider news,
जिस परिवार, समाज एवं देश में नारी का सम्मान होता है वहां संस्कृति का उत्थान होता है - गृह मंत्री डॉ. मिश्र

ग्वालियर । मध्यप्रदेश शासन के गृह, जेल, संसदीय कार्य, विधि एवं विधायी विभाग के मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि जिस परिवार, समाज एवं देश में नारी का सम्मान होता है। उस समाज एवं देश की संस्कृति का उत्थान होता है। प्रदेश में शासकीय आयोजनों की शुरूआत कन्या पूजन से की जा रही है। 

 गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र शनिवार को वृन्दावन धाम में जनपद पंचायत दतिया द्वारा भवन संनिर्माण एवं अन्य कर्मकार मंडल की कन्यादान योजना के तहत 101 कन्याओं को विवाह सहायता के रूप में कुल 51 लाख 51 हजार रूपये की राशि के वितरण समारोह को संबोघित कर रहे है। उन्होंने कहा कि कन्यादान योजना के तहत् कन्याओं को सहायता प्रदाय कर हमनें कोई एहसान नहीं किया है बल्कि सरकार ने अपना फर्ज निभाया है।  

 गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश की शिवराज सरकार बनने के तत्काल बाद राज्य सरकार ने महिलाओं एवं कन्याओं के हित में कन्यादान योजना शुरू करने का नर्णय लिया। सरकार ने जन्म लेते ही बालिका परिवार पर बोझ न बने इसके लिए लाड़ली लक्ष्मी जैसी अनूठी योजना शुरू की। इस योजना की सफलता को देखते हुए देश के कई राज्यों द्वारा भी इसे अपनाया गया। 

 गृह मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि कन्यादान योजना के तहत 101 कन्याओं की शादी हेतु प्रत्येक कन्या को 51 हजार रूपये कुल 51 लाख 51 हजार रूपये की राशि का वितरण किया गया। उन्होंने कहा कि सरकार ने महिलाओं एवं बालिकाओं के हित में निर्णय लेकर प्रदेश में अनूठे नवाचार भी किए है। इन नवाचारों का अन्य राज्यों द्वारा भी अनुसरण किया गया है। डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने नगर निकायों, पंचायतों में महिलाओं के लिए कुल पदों पर 33 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था की है। इसी का परिणाम है कि जिला पंचायत दतिया का अध्यक्ष पद महिला के लिए आरक्षित हुआ।

 गृह मंत्री ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में भी महिलाओं को 50 प्रतिशत एवं पुलिस में भी आरक्षण की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य एवं केन्द्र सरकार महिलाओं एवं बेटियों के हित में ऐतिहासिक निर्णय लेने वाली ऐतिहासिक सरकारें रही है। इन निर्णयों को पूरा करने का कार्य भी सरकारों ने किया है। 

 कार्यक्रम में श्रीमती रजनी प्रजापति, श्रीमती रीता यादव, श्रीमती माला टिलवानी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम के शुरू में जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री गिर्राज दुबे ने कन्यादान योजना की जानकारी देते हुए बताया कि कन्याओं की शादियों के 1300 प्रकरण चिन्हित किए गए है। जिसमें प्रथम चरण में 101 प्रकरणों में आज प्रत्येक प्रकरण में 51 हजार रूपये की सहायता राशि के स्वीकृति पत्र प्रदाय किए गए हैं। गृहमंत्री ने कार्यक्रम का शुभारंभ कन्यापूजन से किया। 

 इस अवसर पर पूर्व विधायक डॉ. आशाराम अहिरवार, पूर्व विधायक श्री प्रदीप अग्रवाल, अपर कलेक्टर श्री एके चांदिल, सीईओ जिला पंचायत श्री अतेन्द्र सिंह गुर्जर आदि उपस्थित थे।

Share This News :