Homeराज्यो से ,slider news,
प्रशांत किशोर हो सकते हैं कांग्रेस में शामिल, राहुल गांधी ने मांगी पार्टी नेताओं की राय

क्या कांग्रेस चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को अपने दल में शामिल करना चाहती है? और क्या खुद प्रशांत किशोर भारत की सबसे पुरानी पार्टी के साथ अपनी नई राजनीतिक पारी शुरू करने के मूड में हैं? राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ मुलाकातों और एक अहम बैठक के बाद सियासी गलियारों में प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है। बताया तो यह भी जा रहा है कि राहुल गांधी ने एक बैठक कर प्रशांत किशोर को कांग्रेस में शामिल करने के लिए पार्टी नेताओं से राय मांगी है। 

राहुल ने कांग्रेस नेताओं संग की है बैठक

कांग्रेस के हलकों में इसकी फुसफुसाहट तेज हो गई है, मगर न तो पार्टी और न ही प्रशांत किशोर ऑन रिकॉर्ड कुछ कह रहे हैं। नाम न छापने की शर्त पर इस मामले से जुड़े तीन लोगों ने कहा कि इस मुद्दे पर 22 जुलाई को राहुल गांधी की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में चर्चा की गई थी और इसमें एके एंटनी, मल्लिकार्जुन खड़गे, केसी वेणुगोपाल, कमलनाथ और अंबिका सोनी सहित पार्टी के लगभग आधा दर्जन से अधिक प्रमुख नेताओं ने भाग लिया था। 

पीके ने कांग्रेस को दिए हैं कई अहम सुझाव

वहीं, प्रशांत किशोर ने कहा कि उन्हें कांग्रेस की बैठक के बारे में कोई जानकारी नहीं है। बता दें कि 15 जुलाई को एचटी ने प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी के साथ किशोर की मुलाकात और राष्ट्रीय पार्टी को आकार देने में उनकी संभावित भूमिका की सूचना दी थी। प्रशांत किशोर द्वारा दिए गए प्रस्तावों में से एक यह है कि राहुल गांधी को नए कांग्रेस संसदीय बोर्ड का नेतृत्व करना चाहिए। बता दें कि जी-23 समूह ने भी इसी बोर्ड की मांग की थी, जो प्रमुख मुद्दों पर पार्टी के रुख पर विचार करेगा। माना जाता है कि पार्टी में बदलाव के सुझावों के अलावा, प्रशांत किशोर की योजनाओं में भाजपा के खिलाफ एक संभावित संयुक्त मोर्चा बनाने का विवरण भी शामिल है, जिसकी शुरुआत 2022 के राष्ट्रपति चुनावों में एक आम विपक्षी उम्मीदवार को स्वीकार करने के साथ हो सकती है (इसमें एनसीपी नेता शरद पवार के नाम का उल्लेख किया गया था)। बता दें कि प्रशांत किशोर उनसे पिछले महीने तीन बार मिल चुके हैं।

Share This News :