Homeअपना शहर ,slider news,
पुष्य नक्षत्र शनिवार से, 24 घंटे 24 मिनट रहेगा खरीदारी का महामुहूर्त, बाजार तैयार

 दीपावली से 7 दिन पहले खरीदारी के लिए महासंयोग बन रहा है। 59 साल बाद विलक्षण लक्ष्मी नारायण योग में पुष्य नक्षत्र 7 को शुरू होगा। जिसे खरीदारी का महामुहूर्त माना जाता है। इस साल पुष्य नक्षत्र 24 घंटे 42 मिनट तक रहेगा, जिससे बाजारों में 2 दिन खरीदारी का विशेष मुहूर्त रहेगा।

 

 

कोरोना के कारण खासा नुकसान झेल चुके व्यापारी पुष्य नक्षत्र व दीपावली को लेकर खासा उत्साहित हैं। ऐसे में बाजारों में ग्राहकों के स्वागत की तैयारी शुरू हो गई है। बाजारों में विशेष सजावट की जा रही है, साथ ही खरीदारी पर ऑकर्षक ऑफर भी दे रहे हैं।

 शनिवार को सुबह 8:05 बजे से पुष्य नक्षत्र का आरंभ होगा, जो कि रविवार को सुबह 8:05 बजे तक रहेगा। नक्षत्र की कुल अवधि 24 घंटे 42 मिनट तक रहेगी, लेकिन रविवार को सूर्योदय के बाद करीब 2 घंटे तक नक्षत्र का विद्यमान रहना पूरे दिन का शुभ फल देगा। इसलिए शनिवार सुबह 8:05 से लेकर रविवार रात 9:00 बजे तक हर प्रकार की वस्तुओं की खरीदारी की जा सकेगी। इस मुहूर्त में हर प्रकार की चल-अचल संपत्ति की खरीदी चिरस्थाई रहती है।27 नक्षत्रों में पुष्य नक्षत्र आठवां नक्षत्र होता है। इस नक्षत्र का प्रतिनिधि शनि होने के कारण इसमें किए गए काम शुभ होते हैं। पुष्य नक्षत्र का स्वामी शनि एवं उप स्वामी बृहस्पति होते हैं। इस बार नक्षत्र के स्वामी अपनी अपनी राशि में विराजित रहेंगे। मकर राशि में शनि तथा धनु राशि में बृहस्पति अपनी अपनी राशि में रहकर इस दिन दुर्लभ संयोग बना रहे हैं।

Share This News :